व्हेल्स हमें जलवायु परिवर्तन से बचा सकती हैं | Whales can save us from climate change

 व्हेल्स हमें जलवायु परिवर्तन से बचा सकती हैं | 


Whales
हमारे पृथ्वी के सबसे बड़े जीव हैं |

इनका वजन, 600 pound से लेकर 200 tonnes, तक हो सकता है,
और
लम्बाई में,  ye ek  बास्केटबॉल कोर्ट जितने लम्बे हो सकते हैं |

लेकिन इतने बड़े जीव हमें जलवायु परिवर्तन से भी बचा सकते हैं | आइये जानते हैं

 

तेज़ी से बढ़ता हुआ कार्बन-डाई-ऑक्साइड हमारे पृथ्वी के पर्यावरण के लिए खतरनाक साबित हो रहे हैं, इससे हमारे पृथ्वी का तापमान बढ़ रहा है और हमारी जलवायु में परिवर्तन रहा है |  व्हेल्स हमें इससे बचा सकती हैं |



 

Great whales परिवार  के  sperm whales और baleen whales हमारे वातावरण में मौजूद कार्बन को अपने भीतर जमा करती रहती हैं | जिसकी मात्रा tonnes में हो सकती है |

अगर हम एक पेड़,
 
और एक whale,

 
के 60 साल के जीवनकाल को देखें तो हमे ये पता चलेगा,

 

एक पेड़ इतने सालों में औसतन 1320 किलो कार्बन डाई ऑक्साइड अपने भीतर जमा कर पता है वहीं whales में कार्बन जमा करने की मात्रा 33,000 किलो तक हो सकती है |

जब एक whale की मौत होती है, तो उसका शव समुद्र के निचले हिस्से में जा कर बैठ जाता है और अपने साथ ले जाता है जीवन भर जमा किया हुआ कार्बन |

इनका शव एक carbon sink की तरह काम करता है  जो आने वाले 100 या 1000 सालों तक वही पड़ा रहता है |

तो whales आखिर carbon di oxide जमा कैसे करती हैं ?

 

whales का खाना krill और plankton जैसे छोटे जीव होते हैं  |

 

Plankton दो तरह के होते हैं

Plant plankton  -- Animal plankton


लेकिन plankton क्यों जरुरी हैं?


हमारे  महासागर में मौजूद Plant plankton हमारे वातारवण से 40 % carbon-di-oxide  ले लेते हैं, और हमारे वातावरण का 50 % oxygen इन्ही plant plankton से आता है |

 

आपको ये जानकार हैरानी होगी की ये planktons हमारी धरती पे oxygen और carbon-di-oxide की मात्रा को balance करने में  amazon के 4 jungle के बराबर हैं |

plant planktons
और animal planktons खा कर whales fecal plumes नाम का मल हमारे समुद्र में छोड़ते हैं जिसमे iron, nitrogen और phosphorous भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं | ये planktons के लिए fertilizer का भी काम करते हैं |

 

इसलिए ऐसा देखा गया है की समद्र में जिस रास्ते से whales अक्सर गुजरती हैं वहां नए planktons काफी मात्रा में पाए जाते हैं |

 

इसका ये निष्कर्ष निकला जा सकता है की जितने ज्यादा whales होंगे,
उतने ज्यादा planktons होंगे और जितने ज्यादा planktons होंगे उतना ही ज्यादा वो हमारे वातावरण से carbon di oxide को कम करेंगे,
और जितनी तेज़ी से CO2  कम होगा उतना ही तेज़ी से हमारा जलवायु सुधरता जायेगा |   

इसलिए हमारे whales का महत्व समझाने के लिए IMF (international monetary fund ) ने whales की value calculate की है इनके carbon जमा करने के हिसाब से | तो एक whale की monetary value IMF ने 20 लाख डॉलर calculate की है |

 

लेकिन इतने important जीव का अब भी शिकार हो रहा है इनके मीट, तेल और हड्डियों के लिए |

इनके शिकार को whaling या commerical whaling का नाम दिया जाता है | commerical whaling काफी देशों में ban है लेकिन japan, iceland और norway अब भी whales का शिकार कर रहे हैं |

commerical whaling के शुरू होने के 500 साल पहले, हमारे महासगार में 40 से 50 लाख whales रहा करती थीं |

 

हालाँकि whales की मौत बड़े बड़े cargo ships से टक्कर हो जाने पे भी होती हैं |

इसका उपाय हम cargo ships के routes को adjust कर के कर सकते हैं | इसका एक example हमें  panama canal में देखने मिलता है जहाँ migratory season में बड़े समुद्री जीव के migratory routes के हिसाब से cargo ships के routes adjust किये जाते हैं | यहाँ ships पे speed limit भी फॉलो की जाती है |

कुछ लोग ये भी कहेंगे की वातावरण सुधरने के लिए , एक whale को बचाने से ज्यादा आसान काम पेड़ लगाना है |

हाँहमें ज्यादा से ज्यादा पेड़ भी लगाने चाहिए,

लेकिन साथ ही, पृथ्वी के सबसे बुद्धिमान जीव को, पृथ्वी के सबसे विशालकाय जीव की, रक्षा और सम्मान भी करना चाहिए |

 

धन्यवाद |

Post a comment

0 Comments