नैनोलेज़र से तंत्रिका का अद्भुत इलाज़ | Nanolaser in healing nerves


नैनोलेज़र से तंत्रिका का अद्भुत इलाज़ | Nanolaser in healing nerves


वैज्ञानिको ने एक ऐसा नैनोलेज़र विक्सित किया है जो शरीर में जीवित ऊतकों को बिना नुकसान पहुंचाए ही उनका इलाज़ करने में सक्षम है |

यह लेज़र केवल 50 से 150 नैनोमीटर मोटा है | यानी की यह इंसान की मोटाई का लगभग 1/1000 वां हिस्सा है | इतने पतले आकर में यह लेज़र जीवित ऊतकों के अंदर फिट हो सकता है और आसानी से अपना  कर सकता है | शोधकर्ताओं का दवा है की ये नैनोलेज़र मस्तिष्क के तंत्रिका सम्बन्धी विकारों जैसे मिर्गी के इलाज़ में मददगार साबित हो सकता है |


ऊतकों की रोग में विशेषताओं को समझने में होगा इस्तेमाल

नैनोलेज़र को नॉर्थवेस्टर्न और कोलंबिया के शोधकर्ताओं ने विक्सित किया है | यह नैनोलेज़र जीवित ऊतकों में इमेजिंग के लिए विशेष संकेत दिखाता है | इसके जरिये गंभीर तंत्रिका सम्बन्ध्ति विकारों का इलाज़ करना संभव हो सकता है | |

लेज़र की बनावट

यह लेज़र ज्यादतर कांच से बना है, हो आंतरिक रूप से बायो-कम्पेटिबल है | यानी ये ऐसी चीज़ है जो शरीर में जा कर भी शरीर को नुक्सान नहीं पंहुचाती है |

यह लेज़र प्रकाश की लम्बी तरंग से उत्तेजित भी हो सकता है और कम तरंग पर उत्सर्जन कर सकता है |
शोधकर्ताओं के मुताबिक, यह एक साफ़ सुथरी प्रणाली है, जो गहरे छेत्रों में भी प्रवेश कर तरंग दैधर्य किरणों को पहुंचाती है | नया लेज़र microprocesser जैसे अंत्यंत सीमित स्थानों में भी आसानी से काम कर सकता है | उन्होंने कहा है की bio-imaging के छेत्र में नया lazer एक महत्वपूर्ण उपकरण साबित हो सकता है
नए lazer की wavelength लम्बी है और इससे पराबैंगनी किरणों का उत्सर्जन भी काम होता है |





Comments